महिलाओं की टी 20 चुनौती: महिला टी 20 चैलेंज के तीसरे मैच में हरमनप्रीत कौर की सुपरनोवाज़ ने स्मृति मंधाना की ट्रैब्लेजर्स को दो रनों से हरा दिया। इस जीत के साथ ही सुपरनोवाज़ ने फाइनल में प्रवेश कर लिया है। सुपरनोवाज़ ने पहले खेलने के बाद 20 ओवर में छह विकेट के नुकसान पर 146 रन बनाए थे। इसके जवाब में ट्रेब्लेजर्स की टीम निर्धारित ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 144 रन ही बना सकी।

इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी सुपरनोवाज़ की शुरुआत शानदार रही। सलामी बल्लेबाज़ चमारी अथापथु और प्रिया पुनिया ने पहले विकेट के लिए 12 ओवर में 89 रन बनाए। पुनिया 37 गेंदो में तीन चौको की मदद से 30 रन बनाकर आउट हुए। हालांकि, उनके साथी अथापथु ने आक्रामक रुख अपना रखा था। अथापथु ने 48 गेंदो में 67 रनों की तूफानी पारी खेली। इस दौरान उन्होंने पांच चौके और चार छक्के जड़े।

इसके अलावा तीन नंबर पर बल्लेबाज़ी करने वाली आईएन कप्तान हरमनप्रीत कौर ने भी 29 गेंदो में 31 रनों की शानदार पारी खेली। इस दौरान उन्होंने एक चौका और एक छक्का लगाया। हालांकि, इन तीनों के आउट होने के बाद सुपरनोवाज़ का पारी लड़खड़ा गया और अचानक टीम का स्कोर भी रुक गया। इस दौरान जेमिमा रोड्रिगेज 01, शशिकला श्रीवर्धने 02 और अनुजा पाटिल 01 रन बनाकर गेंदेलियन लौटी।

वहीं ट्रेब्लेजर्स के लिए झूलन गोस्वामी ने चार ओवर में 17 रन देकर एक विकेट झटका। इसके अलावा सलमा खातून और हरलीन देओल को एक-एक सफलता मिली।

इसके बाद सुपरनोवाज़ से मिले 145 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ट्रैब्लेजर्स की शुरुआत शानदार रही। डिएंड्रा डॉटिन और कप्तान स्मृति मंधाना ने पहले विकेट के लिए 6.3 ओवर में 44 रन बनाए। मंदानी अंदाज़ में बल्लेबाज़ी कर रही डीटीन 15 बैटो में 27 रन बनाकर आउट हुईं। इस दौरान उन्होंने चार चौके और एक छक्का लगाया। इसके बाद रिचा घोष चार रन बनाकर आउट हो गईं।

48 रनों पर दो विकेट गिर जाने के बाद मंधाना ने दीप्ति शर्मा के साथ तीसरे विकेट के लिए 35 रनों की साझेदारी की। 13 वें ओवर में 83 रनों के स्कोर पर मुंडाना 33 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद हेमलता भी चार रन बनाकर चलती बनीं।

इसके बाद दीप्ति और हरलीन देओल ने पांच विकेट के लिए 51 रनों की साझेदारी की। एक देर ऐसा लग रहा था कि मानो ये दोनों आसानी से अपनी टीम को जीत दिलाने लेगी, लेकिन जब आखिरी ओवर में 10 रनों की जरूरत थी, तो इन दोनों ने लय खो दी।

हरलीन 15 गेंदो में 27 रन बनाकर आउट हो गई। इस दौरान उन्होंने तीन चौके लगाए। वहीं दीप्ति 40 अरबो में 43 रन बनाकर नाबाद रहीं। उन्होंने अपनी इस पारी में पांच चौके जड़े।





Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *