रॉयल चैलेंजर्स बैंग्लोर का भारतीय प्रीमियर लीग के 13 वें सीजन में सफर समाप्त हो गया है। आरसीबी को हैदराबाद के हाथों एलिमिनेटर मैच में 6 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। आरसीबी की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 131 रन ही बना पाई थी। लेकिन कप्तान विराट कोहली बल्लेबाजों की बजाए फील्डिंग को हार के लिए दोषी ठहरा रहे हैं।

विराट कोहली का मानना ​​है कि टीम को केन विलियमसन का कैच छोड़ना एक्सप्रेस पड़ रही थी। देवदत्त पडिकल ने बाउंड्री पर केन का कैच पकड़ लिया था, लेकिन खुद को बांउंद्री लाइन के अंदर पाकर उन्हें वो कैच छोड़ना पड़ा। पडिकल ने हालांकि अपने प्रयास से टीम के लिए पांच महत्वपूर्ण रन बनाए।

आरसीबी कप्तान का मानना ​​है कि मैच में जीत दर्ज करने के लिए आपको ऐसे महत्वपूर्ण मौके भुनाने ही पड़ते हैं। विराट ने कहा, ” अगर वो कैच पकड़ लेते तो मैच का नतीजा कुछ और हो सकता था। केन के क्रीज पर बने रहने ने दोनों टीम के बीच अंतर पैदा किया और आरसीबी के हिस्से हार आई। ‘

बता दें कि केन विलियमसन ने इस मौके को जमकर भुनाया और वह आईपीएल में अपना 14 वां अर्धशतक लगाने में कामयाब रहे। केन ने 44 गेंद में 50 रन की नाबाद पारी खेलकर सनराइजर्स हैदराबाद को 6 विकेट से जीत दिलाई और टीम को क्वालिफायर टू में एंट्री दिला दी।

विराट कोहली ने हालांकि 20 साल के युवा खिलाड़ी देवदत्त पडिकल की तारीफ की है। विराट कोहली ने कहा, ” देवदत्त ने पहले सीजन में ही काम किया है। डेब्यू सीजन में 400 से ज्यादा रन बनाना आसान नहीं होता है। ”

IPL 2020: विराट कोहली की कप्तानी पर भड़के गौतम गंभीर, चौंकाने वाली मांग की

IPL 2020: नटराजन की शानदार यॉर्कर में बिखरी डिविलियर्स की गिल्लियां, देखें वीडियो





Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *