टीवी सीरियल ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में (तारक मेहता का उल्टा चश्मा) ‘जेठालाल’ का किरदार निभाने दिलीप जोशी को दर्शकों द्वारा काफी पसंद किया जाता है। दिलीप जोशी को वेब सीरीज में यूज किए जाने वाली गालियों का कंटेंट बिल्कुल पसंद नहीं है और इसके बारे में उन्होंने नाराजगी जाहिर की है। स्टैंडअप कॉमेडियन सौरभ पंत के यूट्यूब पॉड-कास्ट पर उन्होंने कहा कि ओटीटी प्लेटफॉर्म पर हम कुछ अच्छे कंटेंट देख सकते हैं।

दिलीप जोशी ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘जैसे कि मैंने हाल ही में’ बंदिश बंदिट्स ‘देखी। वह सीरीज मुझे काफी पसंद आई। इसमें जबर्दस्त परफॉर्मेंस और शंकर-अहसान-लॉय का शानदार संगीत है, लेकिन इसमें एक ऐसा किरदार है, जो गाली देने में सहज नहीं है। ये वाकई अजीब है। मुझे नहीं पता है कि इस तरह के शब्दों के इस्तेमाल का कोई क्लॉज होता है या नहीं? लेकिन उनके बिना भी आप अच्छा काम कर सकते हैं। जैसे राज कपूर जी, ऋषिकेश मुखर्जी जी और श्याम बेनेगल जी ने कालजयी काम किया है। ‘

दिलीप ने आगे कहा, ‘मैं समझ सकता हूं कि अब के साथ मोड़ और आगे बढ़ना बहुत जरूरी है, लेकिन क्या गाली देना आगे बढ़ना है?’ जो पश्चिमी देशों में हो रहा है, उसे आप अपने यहाँ चाहते हैं। पश्चिम पूरब की संस्कृति की ओर देख रहा है। हमारे देश की संस्कृति और परम्पराएँ सबसे पुरानी हैं। हमारे कल्चर में बहुत सी चीजें शानदार हैं। ये जाने बगैर आप पश्चिम को फोल कर रहे हैं। लेकिन यहाँ ऐसा नहीं है। क्या तुम अपने पैर से इस बात करते हो? ‘





Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *