भारतीय प्रीमियर लीग के रविवार को खेले गए की तुलना में राजस्थान रॉयल्स को कोलकाता नाइट राइटराइडर्स के हाथों 60 रन से करारी हार का सामना करना पड़ा। केकेआर के खिलाफ मिली हार की वजह से ना सिर्फ रेग की प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदें खत्म हुईं, बल्कि उसके नाम पर बेहद ही शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज हो गए।

रेजिडेंट रॉयल्स को इस सीजन में खेले गए 14 में से 8 मुकाबलों में हार मिली, जबकि 6 मुकाबलों में जीत भाग आई। रेजिडेंट रॉयल्स की टीम को पॉइंट्स टेबल में इस साल आखिरी पायदान पर ही संतोष करना होगा। रेजिडेंट रॉयल्स आईपीएल की पहली ऐसी टीम बनी है जो कि विजेता बनने के बाद प्वाइंट्स टेबल में आखिरी पायदान पर रहेगी।

रेजिडेंट रॉयल्स ने 2008 में भारतीय प्रीमियर लीग का पहला सीजन अपने नाम किया था। यह पहला मौका है जब राजस्थान रॉयल्स प्वाइंट्स टेबल में आखिरी पायदान पर रहेगा।

दिल्ली का रिकॉर्ड सबसे खराब है

भारतीय प्रीमियर लीग में सबसे आखिरी पायदान पर रहने के मामले में दिल्ली की टीम का रिकॉर्ड सबसे खराब है। दिल्ली चार बार पॉइंट्स टेबल में आखिरी पायदान पर रही है। किंग्स इलेवन पंजाब तीन बार पॉइंट्स टेबल में आखिरी पायदान पर रही है। आरसीबी की टीम को दो बार प्वाइंट्स टेबल में आखिरी पायदान से संतोष करना पड़ा है।

डेक्कन चार्जर्स, पुणे वियर्स और रेटेड रॉयल्स वे टीमें हैं, जिन्हें तीन बार अंतिम पायदान पर रहना पड़ा है। दिल्ली, पंजाब और आरसीबी तीन वो टीमें हैं जो आईपीएल में अब तक एक भी खिताब जीतने में कामयाब नहीं रही हैं।

आईपीएल 2020: पंत के खराब प्रदर्शन पर भड़के पूर्व कोच, इस बात को जिम्मेदार ठहराया

IPL 2020: केकेआर की उम्मीद बरकरार, जानें कौन सी टीमें बना सकती हैं प्लेऑफ में जगह





Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *